Best Web Blogs    English News

facebook connectrss-feed

सबकुछ-प्यार से

Just another weblog

33 Posts

42 comments

Reader Blogs are not moderated, Jagran is not responsible for the views, opinions and content posted by the readers.

| NEXT

आपको चोकलेट चाहिए थी .

Posted On: 11 Jan, 2012 जनरल डब्बा में

  • SocialTwist Tell-a-Friend

heart-box

आज भी रोज की तरह ही बात -चित चल रही थी . महीने का खर्चा केसे चलेगा , कोन-कोन सी पार्टी में जाना है , वहा कोन सा गिफ्ट देना है . लेकिन तुम आज कुछ उदास सी हो , मेरी बातो में तुम्हारी कोई रूचि नहीं है , मैने पूछा, आज मूड क्यों ख़राब है , पर वो कुछ नहीं बोली , बस एक फीकी सी हँसी- हँस दी . फिर में भी टीवी देखने लगा . फिर एक टीवी एड पर नजर गयी -कुछ मीठा हो जाये . एक एहेसास हुआ -यार रोज की पकाऊ रूटीन लाइफ से आप भी पक गयी है . आपको भी प्यार वाला एहेसास चाहिए . आपको चोकलेट चाहिए . बस में एक चोकलेट ले आया . बस पुराने लम्हे याद किये और जिंदगी में मिठास सी लगी . अंतिम उपदेश -आपने लवर के लिए एक चोकलेट ले जाइये और प्यार पाइए. वो आपसे हमेसा एक मिठास की उमीद करती है.

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (2 votes, average: 5.00 out of 5)
Loading ... Loading ...

0 प्रतिक्रिया

  • SocialTwist Tell-a-Friend

Similar articles : No post found

| NEXT

Post a Comment

*

Reset

नवीनतम प्रतिक्रियाएंLatest Comments




  • ज्यादा चर्चित
  • ज्यादा पठित
  • अधि मूल्यित